जानिए कौन है गैंगस्टर सुजीत सिन्हा, जिसका साम्राज्य गर्ल्स हॉस्टल से चला रही थी गर्लफ्रेंड प्रियंका

कुख्यात गैंगस्टर सुजीत सिन्हा की प्रेमिका प्रियंका कुमारी सिंह उर्फ प्रियंका उर्फ खुशबू उर्फ सृष्टि लेडी डॉन बनकर रांची में अपराधिक साम्राज्य संभाल रही थी। वह सुजीत सिन्हा गिरोह में सेकंड इन चीफ का पद भी संभाल रही थी। रांची के बड़े कारोबारियों और बिल्डरों से रंगदारी की मांग की जा रही थी। यह सिलसिला लंबे समय से चलता आ रहा था। हाल में करीब एक करोड़ रुपये की रंगदारी लेडी डॉन के जरिए उठाया भी जा चुका। लेकिन एक बड़े कारोबारी व राजनीति से जुड़े व्यक्ति से रंगदारी मांगने और हत्या की धमकी के बाद सुजीत सिन्हा की प्रेमिका सहित पूरा गैंग पुलिस के रडार पर आ गया।


रांची पुलिस ने एक-एक कर सभी को दबोच लिया। पकड़े जाने से पहले संबंधित जमीन कारोबारी की हत्या की योजना भी बना चुके थे। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर पूरे मामले का खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि सुजीत सिन्हा का गिरोह रांची और आसपास प्रियंका ही चला रही थी। किससे रंगदारी मांगना है, किसे धमकी देना है, गैंग में किन्हें रखना है, किन्हें हटाना है। सब कुछ प्रियंका के जिम्मे था।

प्रियंका सीधे सुजीत सिन्हा से जुड़ी हुई थी। सुजीत सिन्हा का मैसेंजर घाघीडीह जेल के ही कुछ कर्मी बने थे, जो जेल से उसका मैसेज बाहर प्रियंका तक पहुंचाते थे। संबंधित मैसेंजरों के बारे भी रांची पुलिस पता लगा रही है। जमशेदपुर के घाघीडीह जेल प्रबंधन को उनके बारे में रिपोर्ट भी किया जाएगा। इधर, सुजीत सिन्हा की संपत्ति अटैच किये जाने की तैयारी चल रही है। एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि रांची में बड़े पैमाने पर सुजीत सिन्हा के प्रॉपर्टी की जानकारी मिल रही है। सारी संपत्ति अटैच किए जाने के लिए ईडी को पत्र लिखा जाएगा। उसकी प्रॉपर्टी की सूची तैयार की जा रही है, गहनता से उसका सत्यापन चल रहा है.

यह हुए गिरफ्तार
-रिंटू सिंह ऑफ जयप्रकाश सिंह पिता कृष्णा सिंह, ग्राम श्रीपुर थाना हुसैनाबाद, जिला पलामू वर्तमान में शशि भवन बाली बगीचा हरमू रोड अरगोड़ा थाना जिला रांची।
– प्रियंका कुमारी सिंह उर्फ प्रियंका उर्फ खुशबू उर्फ सृष्टि पिता महेंद्र सिंह, निवासी बैरिया, निमिया थाना सदर जिला पलामू।
– अंकित प्रताप सिंह उर्फ गोलू पिता सुशील कुमार सिंह, निवासी दुर्गा मंदिर रातू रोड, थाना सुखदेवनगर जिला रांची।
– अंकित का भाई विकास सिंह उर्फ छोटू।
गर्ल्स हॉस्टल में रहकर चला रही थी गैंग.

 

सुजीत सिन्हा की प्रेमिका प्रियंका सिन्हा रांची के कडरू स्थित एक गर्ल्स हॉस्टल में रहकर पूरा गैंग चला रही थी। उसने अपने गैंग में दो सगे भाइयों अंकित और विकास को भी जोड़ा था। वह रांची में अपने अलग-अलग गुर्गों के माध्यम से जमीन कारोबारियों की लिस्ट तैयार की थी। संबंधित लिस्ट के आधार पर वह खुद जमीन कारोबारी और बिल्डरों को कॉल करती थी। कॉल कर सभी से रंगदारी में पैसे या डेवलपमेंट वाले काम में हर प्रोजेक्ट पर एक फ्लैट की मांग करती थी। कहा करती थी एक पूरे फ्लैट की कीमत दो वरना गोली मार दिया जाएगा। कई बिल्डरों ने सुजीत सिन्हा के नाम पर मांगे गए रंगदारी के डर से पैसे भी दे चुके थे। हालांकि एक बड़े कारोबारी से रंगदारी मांगने के बाद गैंग की गतिविधि पुलिस के सामने आ गई और प्रेमिका सहित चार लोग पकड़े गए।

सुजीत सिन्हा के खिलाफ आ‌र्म्स एक्ट, रंगदारी और हत्या सहित 51 केस दर्ज हैं। उसके गिरोह में कई अपराधी शामिल हैं। गिरोह के कुछ अपराधी वर्तमान में फरार हैं और कुछ सक्रिय हैं। इसके अलावा कुछ अपराधी जमानत पर हैं, जिसके जरिए सुजीत जेल के अंदर से ही गिरोह चला रहा है। हजारीबाग कोर्ट में मारे गए गैंगस्टर सुशील श्रीवास्तव के खास शूटरों में सुजीत सिन्हा की गिनती होती थी। सुजीत सिन्हा ने सुशील की मौत का बदला लेने के लिए भोला पांडेय गिरोह के सरगना विकास तिवारी की हत्या की साजिश भी रची थी। सुजीत सिन्हा ने ही अपराधी लवकुश शर्मा के जरिए इंजीनियर समरेंद्र प्रताप सिंह को मारने की साजिश रची थी। रांची पुलिस ने इस मामले में सुजीत को गिरफ्तार किया था। पलामू, रांची समेत अन्य जिलों में उसके खिलाफ दर्जनों आपराधिक कांड दर्ज हैं

Check Also

অবশেষে সেই সহকারী শিক্ষিকাকে বিয়ে করলেন প্রধান শিক্ষক

অবশেষে খাদিজা বেগম নামের সেই সহকারী শিক্ষিকাকে বিয়ে করলেন শরীয়তপুরের ভেদরগঞ্জ উপজেলার সখিপুরে তারাবুনিয়া সরকারি …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *